Agnipath Yojana: 'अग्निपथ' पर देश में भड़की आक्रोश की आग, ओवैसी बोले- युवाओं के भविष्य से ना खेले मोदी सरकार

 Agnipath Scheme: केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना के विरोध में हिंसा की आग देश भर में फैल चुकी है. प्रदर्शनकारी युवा सड़कों पर उतरे हुए हैं. बिहार, तेलंगाना, हरियाणा जैसे राज्यों में पथराव, आगजनी और नारेबाजी हो रही है. इस बीच असदुद्दीन ओवैसी ने सरकार पर हमला बोला है.

Agnipath Yojana: 'अग्निपथ' पर देश में भड़की आक्रोश की आग, ओवैसी बोले- युवाओं के भविष्य से ना खेले मोदी सरकार

Agnipath Yojana: नरेंद्र मोदी सरकार की अग्निपथ योजना के विरोध में कई राज्य सुलग रहे हैं. प्रदर्शनकारी छात्रों ने विभिन्न राज्यों में ट्रेनों को आग के हवाले कर दिया है. सड़कों पर उतरकर वे हिंसा और नारेबाजी कर रहे हैं और पुलिस को काबू करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज तक करना पड़ रहा है. इस योजना को लेकर AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने फिर केंद्र पर हमला बोला है.

'हिंसा के लिए मोदी सरकार जिम्मेदार'

उन्होंने कहा, हिंसा कहीं से भी जायज नहीं है लेकिन इसके लिए पीएम मोदी और उनकी सरकार जिम्मेदार है. जो नौजवान पिछले दो साल से तैयारी कर रहे थे, उनके लिए सरकार ने गलत फैसला लिया. ओवैसी ने आगे कहा, सेना कोई कॉन्ट्रैक्ट जॉब नहीं है. ये सम्मानित प्रोफेशन है. वे लोग देश के लिए जान देने और लेने के लिए तैयार रहते हैं. लेकिन इस योजना के तहत चार साल बाद वे क्या करेंगे? ये गलत फैसला है. जैसे भूमि अधिग्रहण बिल और कृषि कानूनों को वापस लिया गया था, वैसे ही इस योजना को भी वापस लिया जाना चाहिए. 

'सरकार ने दिया युवाओं को धोखा'

AIMIM चीफ ने मोदी सरकार पर युवाओं को धोखा देने का भी आरोप लगाया. ओवैसी ने कहा, भारत में 8 प्रतिशत बेरोजगारी दर है. 5 में से एक ग्रेजुएट को नौकरी मिलती है. जब ओवैसी से पूछा गया कि योजना के तहत युवाओं को 4 साल में 23 लाख रुपये मिलेंगे, 25 फीसदी को सेना में लिया जाएगा, नौजवान सेना से जुड़ेंगे, इसमें क्या खराबी है? इस पर ओवैसी ने कहा कि भले ही सरकार 11 लाख रुपये देगी लेकिन डियरनेस अलाउंस, मेडिकल इंश्योरेंस का क्या होगा. अगर कोई एक दिन के लिए एमपी या एमएलए बनता है तो उसे जीवन भर पेंशन मिलती है. हमारे देश में एक लाख वैकेंसी हैं. 

'बीजेपी नहीं समझती जनता की तकलीफ'

मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए ओवैसी ने कहा कि चीन हमारी धरती पर बैठा हुआ है, पाकिस्तान से आतंकी आते हैं और सरकार देश की सुरक्षा के साथ मजाक कर रही है. ओवैसी ने कहा कि मोदी सरकार की नोटबंदी, गलत आर्थिक फैसलों का खामियाजा देश भुगत रहा है. कोरोना काल में सरकार ने देश में चुनाव कराए लेकिन दो साल तक भर्तियां नहीं कीं. AIMIM चीफ ने कहा कि बीजेपी देश की जनता की तकलीफ नहीं समझती. उसका रवैया तानाशाही है. सरकार इस तरह से देश की सुरक्षा और नौजवानों के साथ खिलवाड़ नहीं कर सकती. 

Post a Comment

Previous Post Next Post