Jammu Kashmir: जम्मू-कश्मीर पुलिस को मिली बड़ी सफलता, दो आतंकवादी गिरफ्तार

 

Militant Arrest in Jammu and Kashmir: सुरक्षा बलों ने दो चीनी पिस्तौल, 18 जिंदा कारतूस और तीन मैगजीन बरामद की है. फिलहाल पुलिस ने इन दोनो पर FIR कर कार्यवाही शुरू कर दी है.


Militant Arrest in Jammu and Kashmir: जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) की बारामूला (Baramulla) पुलिस को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है. पुलिस ने पट्टन से भर्ती किए गए दो नए उग्रवादियों को गिरफ्तार किया है. बताया जा रहा है क्षेत्र पंचायत और अल्पसंख्यक समुदाय के सदस्यों की हत्या को अंजाम देने का काम इन्हे सौंपा गया था. पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए इन दोनों आतंकवादी स्थानीय निवासी हैं और इनका संबंध लश्कर-ए-तैयबा से है.

जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) पुलिस के अनुसार इस साल 9 मई को नेहलपोरा पट्टन के इरशाद मीर के रूप में पहचाने गए एक युवक के परिवार ने उसे लापता बताया था. जांच के दौरान यह सामने आया कि वह इलाके में सक्रिय लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar-e-Taiba) के एक मॉड्यूल के जरिए आतंकवादी रैंक में शामिल हुआ था. इसी क्रम में जाहिद बशीर नाम का एक अन्य युवक भी 20 मई को अपने घर से लापता हो गया था. मामले की जांच में यह पता चला है कि युवक आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar-e-Taiba) में शामिल हो गए थे. पुलिस के अनुसार जांच में आगे खुलासा हुआ कि दोनों आतंकवादियों को पंचायत सदस्यों और अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को निशाना बनाने के लिए पट्टन क्षेत्र में काम करने के लिए कहा गया था.

संयुक्त टीमों ने योजना बनाकर आतिंकियों को पकड़ा

10 जून को सुरक्षाबलों को घाट पल्हालन इलाके में इन दोनों आतंकियों की गतिविधि के बारे में विशेष जानकारी मिली थी. बारामूला पुलिस (Baramulla Police) और 29 आरआर की संयुक्त टीमों ने शाम के वक्त योजना बनाकर उन्हें पकड़ लिया. पकड़े गए आतंकवादियों की पहचान इरशाद अहमद मीर, उम्र 23 वर्ष और दूसरा शख्स 18 वर्षीय जाहिद बशीर के रुप में हुई है, दोनों नेहलपोरा पट्टन के निवासी हैं.

बता दें कि सुरक्षा बलों ने दो चीनी पिस्तौल बरामद की हैं, इसके अलावा उनके पास से 18 जिंदा कारतूस और तीन मैगजीन बरामद की गईं है. फिलहाल पुलिस ने इन दोनों पर FIR कर कार्यवाही शुरू कर दी है. केस यूएलए (पी) अधिनियम पीएस पट्टन में दर्ज किया गया है.



Post a Comment

Previous Post Next Post