Murshidabad Violence: मुर्शिदाबाद के रेजिनगर में तनाव, प्रदर्शनकारियों ने किया पथराव, पुलिस ने छोड़े आंसू गैस के गोले

 

Murshidabad Violence Update: बेलडांगा 1 ब्लॉक और रेजीनगर और शक्तिपुर पुलिस थाना क्षेत्रों को कवर करने वाले बेलडांगा 2 ब्लॉक में इंटरनेट सेवाएं 14 जून सुबह छह बजे तक निलंबित कर दी गई हैं.

Fresh Violcence in Murshidabad: पश्चिम बंगाल में मुर्शिदाबाद के रेजिनगर (Murshidabad Violcence) में उस समय तनाव फैल गया, जब पुलिस ने पैगंबर मोहम्मद (Prophet Muhammad Remarks Protest) के मुद्दे पर विरोध रैली का आयोजन कर रही भीड़ को हटाने की कोशिश की. स्थिति तब और खराब हो गई, जब पुलिस ने भीड़ पर काबू पाने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े. जवाब में प्रदर्शनकारियों ने पुलिस बल पर पथराव किया. कथित तौर पर पुलिस पर बम भी फेंके गए थे. राष्ट्रीय राजमार्ग 34 पर अब तक बेलडांगा से रेजिनगर के बीच यातायात पूरी तरह से रोक दिया गया है. वहीं दूसरी ओर बंगाल के राज्यपाल ने शांति बनाए रखने का संदेश जारी किया और राज्य प्रशासन से कानून-व्यवस्था बनाए रखने को भी कहा है.

पश्चिम बंगाल सरकार ने शनिवार को हावड़ा में हिंसा के बाद भ्रामक सूचना के प्रसार को रोकने के लिए मुर्शिदाबाद जिले के कुछ हिस्सों में इंटरनेट सेवाओं को 14 जून तक के लिए निलंबित कर दिया है, जहां पहले से ही इस तरह की पाबंदी लागू है. एक आदेश में कहा गया है कि बेलडांगा पुलिस थाना क्षेत्र के बेलडांगा 1 ब्लॉक और रेजीनगर और शक्तिपुर पुलिस थाना क्षेत्रों को कवर करने वाले बेलडांगा 2 ब्लॉक में इंटरनेट सेवाएं 14 जून को सुबह छह बजे तक निलंबित कर दी गई हैं. पूरे हावड़ा जिले में 13 जून तक इंटरनेट सेवाओं को निलंबित कर दिया गया है और 15 जून तक उलुबेरिया, डोमजूर और पंचला जैसे कई क्षेत्रों में दंड प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) की धारा 144 लागू कर दी गई है.

हावड़ा में भी लगाए गए प्रतिबंध

भारतीय जनता पार्टी (BJP) की निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा और निष्कासित नेता नवीन जिंदल द्वारा पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी को लेकर शुक्रवार को हावड़ा जिले के कई हिस्सों में विरोध प्रदर्शन के बाद प्रतिबंध लगाए गए थे. हावड़ा में हिंसक विरोध प्रदर्शन और पुलिस के साथ संघर्ष के दौरान प्रदर्शनकारियों ने पथराव किया, पुलिस वाहनों में आग लगा दी और सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाया. हावड़ा जिले के पंचला बाजार इलाके में शनिवार को ताजा हिंसा की सूचना मिली और प्रदर्शनकारी पुलिस से भिड़ गए तथा कई घरों में आग लगा दी गई. प्रदर्शनकारियों ने पुलिसकर्मियों पर पथराव किया, उनमें से कुछ घायल हो गए और भाजपा पार्टी कार्यालय में भी तोड़फोड़ की.

Post a Comment

Previous Post Next Post