Prophet Muhammad विवाद पर मचे बवाल को लेकर नवनीत राणा बोलीं- नुपूर ने मांग ली माफी, बीजेपी ने भी उठा लिया कदम, फिर ये हिंसा क्यों?

 

Prophet Muhammad Row: अमरावती से निर्दलीय सांसद नवनीत राणा ने जुमे की नमाज के बाद भड़की हिंसा पर बात करते हुए कहा कि, राजनीतिक फायदे के लिए हिंसा कराई जा रही है.

Prophet Muhammad Row: महाराष्ट्र (Maharashtra) के अमरावती से निर्दलीय सांसद नवनीत राणा (Navneet Rana) ने पैगंबर मौहम्मद (Prophet Muhammad) पर छिड़े विवाद और शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद भड़की हिंसा पर बात करते हुए कहा कि, राजनीतिक फायदे के लिए हिंसा कराई जा रही है.

नवनीत राणा ने एबीपी न्यूज़ से खास बातचीत करते हुए कहा कि, नुपूर शर्मा (Nupur Sharma) ने अपने दिए बयान को लेकर माफी मांग ली है. साथ ही उनके खिलाफ बीजेपी पार्टी ने भी कार्रवाई भी कर ली है तो फिर अब ये हिंसा क्यों? नवनीत राणा ने आगे कहा कि, आम लोगों का समझना जरूरी है कि हमारा देश एक्शन पर रिएक्शन देने वाला नहीं है.

देश का माहौल बिगाड़ने की हो रही कोशिश- नवनीत

नवनीत कहा कि राजनीतिक दल आम लोगों का इस्तेमाल कर देश का माहौल बिगाड़ रहे हैं. जब नुपूर शर्मा ने अपने बयान को लेकर माफी मांग ली है तो अब इस तरह सड़कों पर उतर कर हिंसा करने का क्या अर्थ है? नवनीत ने आगे कहा कि, आप किसी भी दल को उठा लीजिए... सभी ने कभी ना कभी टिप्पणी की है जो गलत हो... पर बीजेपी इकलौती ऐसी पार्टी है जिसने तुरंत कार्रवाई करते हुए नुपूर शर्मा को बाहर किया.

नवनीत राणा ने कहा कि, "लोगों का इस तरह हिंसा करना, ये हम लोगों को ही नुकसान पहुंचाएगा. हमारे शहर को नुकसान पहुंचाएगा और हमारे देश को नुकसान पहुंचाएगा." नवनीत ने अपनी बात को खत्म करते हुए कहा, लोगों को समझना होगा कि उन्हें गुमराह कर उनका गलत इस्तेमाल किया जा रहा है.

देशभर में भड़की हिंसा

बता दें, पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी करने के आरोप में निलंबित बीजेपी की राष्ट्रीय प्रवक्ता नुपूर शर्मा और निष्कासित नेता नवीन जिंदल को गिरफ्तार किए जाने की मांग को लेकर शुक्रवार को देशभर के कई राज्यों में प्रदर्शन किए गए.  भारत की सबसे बड़ी मस्जिदों में से एक राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की जामा मस्जिद के बाहर बड़ी संख्या में लोगों ने शुक्रवार को विरोध प्रदर्शन किया. उत्तर प्रदेश के कई जिलों में जुमे की नामज के बाद हालात बेकाबू होते दिखाई दिए. इसमें प्रयागराज, मुरादाबाद, सहारनपुर शामिल रहे.

Post a Comment

Previous Post Next Post